loader

कांग्रेस ने भी किया कश्मीर में बीडीसी चुनाव का बहिष्कार 

कश्मीर की मुख्य विपक्षी पार्टियां लगातार बीडीसी चुनाव का बहिष्कार कर रही हैं। मंगलवार को ही अन्य दलों के चुनाव में भाग न लेने की घोषणा के बाद बुधवार को कांग्रेस ने भी घोषणा की है कि वह चुनाव का बहिष्कार करेगी। कांग्रेस की जम्मू-कश्मीर इकाई के अध्यक्ष ग़ुलाम मोहम्मद मीर ने प्रेस कॉन्फ़्रेस में इसकी घोषणा की है। 

मुख्य विपक्षी पार्टियां नेशनल कॉन्फ़्रेंस और पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) ने भी चुनाव का बहिष्कार करने की घोषणा की है। बता दें कि अनुच्छेद 370 को हटाये हुए 65 दिन हो चुके हैं लेकिन अभी भी राज्य में प्रतिबंध जारी हैं। केंद्र और जम्मू-कश्मीर प्रशासन के सामने सबसे बड़ी चुनौती राज्य में ब्लॉक डेवलपमेंट काउंसिल (बीडीसी) के चुनाव कराना है। 

ताज़ा ख़बरें

बीडीसी के चुनाव 24 अक्टूबर को होने हैं लेकिन हाल ही में घाटी में जिस तरह लोगों के केंद्र के फ़ैसले के ख़िलाफ़ सड़कों पर उतरने की ख़बरें सामने आई हैं, उसे देखते हुए चुनाव कराना आसान नहीं माना जा रहा है। जानकारों के मुताबिक़, राज्य में राजनीतिक माहौल को सामान्य तभी किया जा सकता है जब वहाँ के बड़े नेताओं को प्रशासन आज़ाद करे। पिछले दो महीने से राज्य के पूर्व मुख्यमंत्रियों फ़ारूक अब्दुल्ला, उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ़्ती को प्रशासन ने हिरासत में रखा हुआ है। इसके अलावा भी कई प्रमुख नेताओं को लोगों के बीच जाने नहीं दिया गया है, ऐसे हालात में चुनाव किस तरह होंगे, यह एक बड़ा सवाल है। 

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

जम्मू-कश्मीर से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें