loader

शहीदों को श्रद्धांजलि देने अचानक शामली पहुँचे राहुल, प्रियंका

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी और महासचिव प्रियंका गाँधी पुलवामा हमले में शहीद हुए शामली के जवान प्रदीप और अमित कोरी को श्रद्धांजलि देने बुधवार को उनके घर गए। उनके साथ पश्चिमी उत्तर प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी ज्योतिरादित्य सिंधिया और प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर भी थे। कांग्रेस नेताओं का शहीदों के घर जाना यकायक और बग़ैर किसी तामझाम के था, यहाँ तक कि स्थानीय कांग्रेस नेताओं को भी इसकी जानकारी नहीं थी। 

राहुल गांधी ने शहीदों के परिजनों से मुलाक़ात कर उन्हें सांत्वना दी और उनकी शहादत पर गर्व जताया। अचानक अपने बीच राहुल-प्रियंका को पाकर शहीद अमित के परिजन भावुक हो गए। रघुनाथ मंदिर में आयोजित सभा में प्रियंका गांधी ने अमित और प्रदीप की शहादत पर नाज़ करते हुए कहा कि 'देश के लिए जान देने वाले ऐसे सपूतों पर वो गर्व करती है।'

राहुल-प्रियंका के आने की सूचना के साथ ही शामली प्रशासन में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में शामली के कई मार्गो पर बेरिकेडिंग कर दी गई। सबसे पहले कांग्रेस के पूर्व विधायक पंकज मलिक सभा में पहुंचे। उन्होंने बताया कि राहुल-प्रियंका शहीदों के परिजनों से मिलकर कई बार भावुक हुए और उनकी हर प्रकार की मदद का भरोसा दिया। 

राहुल -प्रियंका शहीद अमित कुमार की श्रद्धांजलि के बाद दूसरे शहीद प्रदीप के घर भी गए। यहां प्रियंका ने शहीद की बेटी को सीने से लगा लिया।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गुरुवार को यहां आने की संभावना जताई जा रही है। अब तक यहाँ भाजपा का कोई बड़ा नेता नही पहुँचा है। मंगलवार को मेरठ में भाजपा के केंद्रीय मंत्री सतपाल सिंह सहित कई नेताओं को काफ़ी विरोध का सामना करना पड़ा था। 

आस मुहम्मद
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

पुलवामा हमला से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें