loader

राजस्थान में 72.14 फ़ीसदी और तेलंगाना में 67 फ़ीसदी मतदान

  • राजस्थान और तेलंगाना में विधानसभा चुनाव के लिए मतदान चल रहा है। राजस्थान में 200 में से 199 और तेलंगाना में सभी 119 सीटों पर मतदान हो रहा है। लोकसभा चुनाव 2019 से पहले पाँच राज्यों के विधानसभा चुनाव के नतीजों को बेहद अहम माना जा रहा है। आज शाम को पाँच बजे से एग्जिट पोल के नतीजे आने शुरू हो जाएँगे। वोटिंग से जुड़ा हर अपडेट आप नीचे पढ़ सकते हैं।
राजस्थान में 72.14 फ़ीसदी और तेलंगाना में 67 फ़ीसदी मतदान हुआ।
राजस्थान : सीकर के फतेहपुर में सुभाष स्कूल में बने एक पोलिंग बूथ पर दो गुटों के बीच झड़प के बाद हिंसा और आगजनी हुई। इससे 30 मिनट तक मतदान रुका रहा। पुलिस ने उपद्रवियों को मौके से हटाकर मतदान फिर से शुरू करवाया। 
  • राजस्थान में कई मतदान केंद्रों से EVM ख़राब होने की शिकायत आ रही हैं। कई जगह नाराज़ लोगों ने हंगामा भी किया। EVM की ख़राबी से आम आदमी ही नहीं मोदी सरकार के मंत्री अर्जुन राम मेघवाल भी परेशान हैं।
  • मेघवाल सुबह बीकानेर पूर्व के बूथ नंबर 172 पर मतदान के लिए पहुँचे और लाइन में लग गए। थोड़ी देर बाद EVM खराब हो गई, इसे ठीक करने में कई घंटे लग गए। तब तक वे लाइन में खड़े रहे। मेघवाल बीकानेर लोकसभा क्षेत्र से सांसद हैं।
  • राजस्थान की सीएम वसुंधरा राजे ने शरद यादव के एक बयान पर आपत्ति जताई है और चुनाव आयोग से इस पर संज्ञान लेने के लिए कहा है। राजे ने कहा है कि भविष्य में ऐसा न हो, इसके लिए चुनाव आयोग को इस तरह की भाषा पर संज्ञान लेना चाहिए। उन्होंने कहा, 'मैं अपमानित महसूस कर रही हूँ और मुझे लगता है कि सभी महिलाओं का अपमान हुआ है।' शरद यादव ने कहा था, 'वसुंधरा (राजे) को आराम दो, वे थक गई हैं, बहुत मोटी हो गई हैं।'
  • राजस्थान : जयपुर के किशनपुरा में 105 साल की महिला भी वोट डालने आईं। महिला के परिजनों ने कहा कि पोलिंग बूथ पर व्हील चेयर की सुविधा नहीं है। इसलिए हमें उन्हें उठाकर लाना पड़ा। 
  • राजस्थान में 3 बजे तक 59.43 फ़ीसदी जबकि तेलंगाना में 56.17 फ़ीसदी मतदान हुआ है।
  • राजस्थान के जालोर की अहोर विधानसभा के पोलिंग बूथ 253 और 254 में ईवीएम ख़राब होने के कारण कुछ देर के लिए मतदान को रोकना पड़ा। इससे नाराज़ लोगों ने हंगामा किया।
  • सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने हैदराबाद के शास्त्रीपुरम में बने पोलिंग बूथ पर मतदान किया।
  • अभिनेता चिरंजीवी ने हैदराबाद के जुबली हिल्स इलाक़े के एक पोलिंग बूथ पर लाइन में खड़े होकर अपनी बारी का इंतजार किया और मतदान किया।
  • राजस्थान के बीकानेर में तकनीकी ख़राबी के कारण एक पोलिंग बूथ पर ईवीएम को बदला गया।
  • वरिष्ठ कांग्रेस नेता अशोक गहलोत ने विधानसभा चुनाव के लिए जोधपुर में बने एक मतदान केंद्र पर वोट डाला।
  • टीआरएस सांसद के कविता ने निज़ामाबाद के एक पोलिंग बूथ पर लाइन में खड़े होकर मतदान के लिए इंतजार किया।
  • केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने जोधपुर के एक मतदान केंद्र पर अपने वोट का इस्तेमाल किया।
  • राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने झलावर के झालरापाटन के पिंक बूथ में अपना वोट डाला।
  • केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने जयपुर के वैशाली नगर में वोट डाला।
  • जोधपुर जिले की सरदारपुरा सीट पर 80 वर्षीय बुजुर्ग महिला ने वोट डाला। इससे युवा मतदाताओं को प्रेरणा लेते हुए मतदान ज़रूर करना चाहिए।
  • राजस्थान के गृह मंत्री गुलाब चंद कटारिया ने उदयपुर के एक मतदान केंद्र पर अपने मताधिकार का प्रयोग किया।
  • तेलंगाना के निज़ामाबाद इलाक़े के एक बूथ पर मतदान करते लोग।
  • तेलंगाना में मतदान सुबह 7 बजे शुरू हुआ जबकि राजस्थान में सुबह 8 बजे से मतदान शुरू हुआ।
  • सभी विधानसभा क्षेत्रों में वीवीपैट का प्रयोग किया जा रहा है। दोनों राज्यों में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। 11 दिसंबर को छत्तीसगढ़, मिजोरम, मध्य प्रदेश, राजस्थान और तेलंगाना के चुनाव नतीजे घोषित किए जाएंगे।  
  • राजस्थान में मुख्य मुकाबला सत्ताधारी बीजेपी और कांग्रेस के बीच है। तेलंगाना में सत्ताधारी टीआरएस, कांग्रेस-टीडीपी गठबंधन और बीजेपी में त्रिकोणीय लड़ाई की संभावना है। 

'सत्य हिन्दी'
की ताक़त बनिए

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

राजस्थान से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें