loader

बंगाल : मोदी के आरोपों को ग़लत, झूठ बताया टीएमसी ने

जैसे-जैसे पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव 2021 नज़दीक आता जा रहा है, भारतीय जनता पार्टी और तृणमूल कांग्रेस के बीच तनातनी और तू तू -मैं मैं बढ़ती ही जा रही है। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 22 फ़रवरी को राजधानी कोलकाता के नज़दीक हुगली में एक जनसभा में राज्य सरकार पर ज़ोरदार हमला करते हुए कई तरह के आरोप लगाए। तृणमूल कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य डेरेक ओ ब्रायन ने प्रधानमंत्री के आरोपों का बिन्दुवार जवाब दिया है और उन्हें ग़लत बताया है। डेरेक ओ ब्रायन ने ख़ुद ट्वीट कर कहा कि उन्होंने मोदी के आरोपों का ‘फ़ैक्ट चेक’ किया है और उन्हें  ग़लत पाया है। 

औद्योगिक विकास

प्रधानमंत्री ने हुगली की जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य सरकार की नीतियों की वजह से पश्चिम बंगाल में उद्योग-धंधे चौपट होते चले गए, नतीजतन लोगों को रोज़गार मिलना बंद हो गया और बेरोज़गारी बढ़ी है। 

टीएमसी सांसद ने इसका जवाब देते हुए कहा कि साल 2012 में पश्चिम बंगाल में 34.6 लाख छोटे-बड़े उद्योग धंधे थे, मौजूदा समय 89 लाख उद्योग धंधे काम कर रहे हैं। इनमें 1.35 करोड़ लोगों को रोज़गार मिला हुआ है। 

derek o brien calls narendra modi lier before west bengal assembly election 2021 - Satya Hindi

आर्थिक विकास

नरेंद्र मोदी ने टीएमसी की राज्य सरकार पर चोट करते हुए कहा कि इसके शासनकाल में राज्य में विकास नहीं हुआ है और इस कारण लोगों की आमदनी नहीं बढ़ी है। 

डेरेक ओ ब्रायन ने इसका जवाब देते हुए कहा है कि साल 2012 में पश्चिम बंगाल की प्रति व्यक्ति आय 51,543 थी। इसमें इजाफ़ा हुआ है। साल 2019 में राज्य की प्रति व्यक्ति आय 1.09 लाख रुपए हो गई। 

प्रधानमंत्री ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर आरोप लगाया है कि राज्य सरकार ने यहाँ के किसानों को केंद्रीय योजना पीएम-किसान का फ़ायदा नहीं उठाने दिया, उन्हें केंद्र सरकार से पैसे नहीं मिले। 

ओ ब्रायन ने इस पर पलटवार करते हुए किसानों से जुड़ी हुई राज्य योजनाओं के बारे में बताया। उन्होंने कहा,

“बंगाल अपने किसानों को सालाना 6,000 रुपए प्रति हेक्टेअर की आर्थिक मदद देता है, जबकि पीएम-किसान योजना के तहत अधिकतम 1214 रुपए प्रति हेक्टेअर की ही मदद मिल सकती है।”


डेरेक ओ ब्रायन, राज्यसभा सदस्य, टीएमसी

derek o brien calls narendra modi lier before west bengal assembly election 2021 - Satya Hindi

पीने का पानी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि पीने का पानी हर किसी को मुहैया कराने की केंद्रीय योजना है, जिसके लिए राज्य सरकार को 1,700 करोड़ रुपए दिए गए। लेकिन पश्चिम बंगाल सरकार ने इसमें से सिर्फ 609 करोड़ रुपए ही खर्च किए हैं। 

डेरेक ओ ब्रायन ने इसका जवाब देते हुए राज्य सरकार की योजना के बारे में बताया है। उन्होंने कहा कि पीने के पानी पर राज्य सरकार 58,000 करोड़ रुपए खर्च करेगी और इसके तहत 2 करोड़ घरों तक पीने का पानी पाइप से पहुँचाया जाएगा। 

दुर्गापूजा

मोदी ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस के कारण लोगों ने दुर्गा पूजा करना बंद कर दिया है। टीएमसी सांसद ने इस पर कहा है कि राज्य सरकार तमाम दुर्गापूजा कमेटियों को पूजा के आयोजन के लिए अनुदान देती है। 

derek o brien calls narendra modi lier before west bengal assembly election 2021 - Satya Hindi

रेल परियोजनाएं

प्रधानमंत्री ने कई रेल लाइन परियोजनाओं के  निर्माण कार्य का उद्घाटन  किया। लेकिन डेरेक ओ ब्रायन ने दावा किया है कि ये लाइनें और कोलकाता मेट्रो के दक्षिण-उत्तर लाइन का उद्घाटन 2011 में ममता बनर्जी ने रेल मंत्री रहते हुए किया था। 

उन्होंने इसके साथ ही पीआईबी का नोटिफिकेशन भी ट्वीट कर दिया, जिसमें उस कार्यक्रम की पूरी जानकारी दी गई थी। यह नोटिफिकेशन 25 फरवरी 2011 को जारी किया गया था। 

इस मुद्दे पर तो डेरेक ओ ब्रायन काफी आक्रामक हैं और प्रधानमंत्री पर झूठ बोलने का आरोप लगाया है। 

इसके पहले भी नरेंद्र मोदी के दावों पर कई बार विवाद हो चुका है। भाषणों में ग़लत तथ्य डालने और उसे तोड़ मरोड़ कर पेश करने के आरोप मोदी पर पहले भी लग चुके हैं। 

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

'सत्य हिन्दी'
की ताक़त बनिए


गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

पश्चिम बंगाल से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें