loader

टेस्ला कार बेचने दो, तब भारत में खोलेंगे फैक्ट्रीः मस्क

इलेक्ट्रिक कार टेस्ला के संस्थापक एलोन मस्क ने पहली बार अपने इंडिया ऑपरेशन को लेकर स्पष्ट बयान दिया है। मस्क ने एक ट्वीट ने कहा है कि वो भारत में तब तक टेस्ला कार नहीं बनाएगी, जब तक भारत में टेस्ला को बेचने और अपना सर्विस सेंटर चलाने की अऩुमति नहीं मिलती। ट्विटर पर एक शख्स ने मस्क से इस बारे में सवाल पूछा था। मस्क ने उसका जवाब देते हुए यह बात कही है।
मस्क ने ट्वीट में लिखा, टेस्ला ऐसी किसी भी जगह पर मैन्युफैक्चरिंग प्लांट नहीं लगाएगी, जहां हमें पहले कारों को बेचने और सर्विस करने की इजाजत नहीं है।

भारत में टेस्ला की एंट्री 2019 से रुकी हुई है, क्योंकि भारत 40,000 डॉलर या उससे कम कीमत वाले इलेक्ट्रिक वाहन पर 60% आयात शुल्क लगाता है। 40,000 डॉलर से अधिक कीमत वाले इलेक्ट्रिक वाहनों पर आयात शुल्क 100% है।

ताजा ख़बरें
भारत में अपनी एंट्री के मकसद से कंपनी ने मार्च 2021 में अपने पहले अधिकारी मनुज खुराना को अपना प्रमुख नियुक्त किया।

टेस्ला ने हाल ही में टेस्ला इंडिया के कर्मचारियों को बड़े एशिया-प्रशांत क्षेत्र में काम करने का निर्देश दिया। कुछ रिपोर्टों के अनुसार, कंपनी ने अपना ध्यान इंडोनेशियाई बाजार पर केंद्रित कर दिया है और वह वहां एक प्लांट भी लगा सकती है।   
केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने हाल ही में एलोन मस्क को लेकर दिए गए बयान में कहा था कि एलोन मस्क भारत में प्लांट लगाएं उनका स्वागत है। लेकिन अगर टेस्ला का निर्माण चीन में करके उसे भारत में बेचा गया तो उसकी अनुमति नहीं दी जाएगी।

दुनिया से और खबरें

ट्विटर में मस्क की जद्दोजेहद जारी

ट्विटर इंक ने शुक्रवार को कहा कि वो बोर्ड से एगॉन डरबन के इस्तीफे को स्वीकार नहीं करेगा। एगॉन डरबन को एलोन मस्क समर्थक माना जाता है। शेयरधारकों ने एक वार्षिक बैठक में एगॉन डरबन के फिर से चुनाव को रोक दिया।
डरबन एलोन मस्क के सहयोगी हैं, जिसने 44 बिलियन डॉलर के सौदे में ट्विटर को निजी रूप से लेने की पेशकश की है। ट्विटर ने कहा कि डरबन को "बोर्ड सेवा सीमाओं के संबंध में कुछ संस्थागत निवेशकों की मतदान नीतियों" के कारण इस सप्ताह के शुरू में हुए फिर से चुनाव में अधिकांश मतों का समर्थन पाने में नाकाम रहे। 
ट्विटर ने कहा कि डरबन, जो छह अन्य कंपनियों के बोर्ड में कार्य करते हैं, 25 मई, 2023 तक अपनी बोर्ड सेवा प्रतिबद्धताओं को पांच सार्वजनिक कंपनी बोर्डों से कम करने के लिए सहमत हो गए हैं। सोशल मीडिया कंपनी ने कहा कि डरबन बोर्ड के "प्रभावी सदस्य" थे और इस इंडस्ट्री के ऑपरेशन के वो बहुत बड़े जानकार हैं। मस्क ने 13 मई को ट्वीट किया कि ट्विटर डील फिलहाल रोक दी गई है। उन्होंने ट्विटर पर नकली खातों के अनुपात के बारे में अधिक जानकारी मांगी थी।

टेस्ला इंक के शेयर अभी लगभग 5% ऊपर चल रहे हैं, जबकि ट्विटर शुरुआती कारोबार में मामूली रूप से बढ़ा है।
सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

दुनिया से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें