loader

जेएनयू के छात्रों ने निकाला मार्च, पुलिस से हुई भिड़ंत

फीस बढ़ोतरी के ख़िलाफ़ जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) के छात्रों ने सोमवार को जोरदार प्रदर्शन किया। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने कई जगहों पर बैरिकेड को तोड़ दिया। पुलिस ने जेएनयू कैंपस के बाहर धारा 144 लागू कर दी लेकिन फिर भी छात्रों ने मार्च निकाला। प्रदर्शन के दौरान पुलिस ने छात्रों को सफ़दरजंग के मकबरे के आगे रोक दिया। पुलिस ने कई छात्रों को हिरासत में भी ले लिया। इससे पहले यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह के दिन भी हजारों छात्रों ने प्रदर्शन किया था। छात्रों ने पहले ही कहा था कि वे सोमवार को जेएनयू से संसद तक पैदल मार्च निकालेंगे। 

छात्रों के मार्च को देखते हुए उद्योग भवन, पटेल चौक, लोक कल्याण मार्ग और केंद्रीय सचिवालय मेट्रो स्टेशन को भी बंद करना पड़ा। 

प्रदर्शनकारी छात्रों का कहना था कि वे शांतिपूर्ण तरीके से मार्च निकाल रहे थे लेकिन उनकी आवाज़ को दबाने की कोशिश की जा रही है। उनका कहना था कि वे बीते कई दिनों से फ़ीस बढ़ोतरी का विरोध कर रहे हैं लेकिन उनकी बात को नहीं सुना जा रहा है। उनका यह भी कहना है कि विश्वविद्यालय में बड़ी संख्या में छात्र ग़रीब परिवारों से आते हैं। ऐसे में ये छात्र कैसे अपनी पढ़ाई पूरी कर पायेंगे। 

ताज़ा ख़बरें

केंद्र सरकार जेएनयू के विवाद को सुलझाने की कोशिशों में जुटी है। मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने एक कमेटी का गठन किया है और कमेटी के सदस्यों से कहा है कि वह छात्रों और जेएनयू प्रशासन से बात करके इस विवाद को हल करे। 

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

दिल्ली से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें