loader

रेलवे स्टेशनों के बुकिंग काउंटर 2-3 दिनों में खुल जाएँगे : रेल मंत्री

लॉकडाउन के बीच ही अब दो-तीन दिनों के अंदर पूरे देश भर में रेलवे स्टेशनों पर काउंटर पर टिकट मिलने लगेंगे। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने इसकी जानकारी दी है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि जल्द ही ट्रेनों की संख्या बढ़ाई जाएगी। दो दिन पहले ही घोषणा की गई थी कि एक जून से 200 ट्रेनें चलाई जाएँगी। इसका मतलब है कि 100 एक तरफ़ से चलेंगी तो 100 दूसरी तरफ़ से। 15 जोड़ी एसी ट्रेनें 12 मई से ही चलाई जा रही हैं। श्रमिक स्पेशल ट्रेनें तो चलाई ही जा रही हैं। 

रेल मंत्री ने कहा कि कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए बंद की गई ट्रेनों को बहाल करने का समय आ गया है क्योंकि देश अब सामान्य स्थिति की ओर अग्रसर हो रहा है। 'पीटीआई' के अनुसार उन्होंने कहा कि जल्द ही और भी ट्रेनों को चलाए जाने की घोषणा की जाएगी। उन्होंने कहा कि देश भर के स्टेशनों के काउंटर पर दो-तीन दिनों में टिकट बुकिंग शुरू की जाएगी। इसके लिए अध्ययन किया जा रहा है और प्रोटोकॉल तैयार किया जा रहा है।

ताज़ा ख़बरें

बता दें कि अब तक जो भी ट्रेनें चलाई गई हैं और जिन ट्रेनों को चलाने की घोषणा की गई है उन सबके लिए ऑनलाइन बुकिंग ही स्वीकार की गई है। जब 200 ट्रेनों की घोषणा की गई तब भी सिर्फ़ ऑनलाइन टिकट की बात कही गई और जब 15 जोड़ी एसी ट्रेनों को चलाने की बात कही गई तब भी। ऑनलाइन टिकट भी सिर्फ़ आईआरसीटीसी की वेबसाइट या मोबाइल ऐप के ज़रिए। किसी एजेंट के माध्यम से ऑनलाइन बुकिंग की सुविधा नहीं दी गई। 

माना जा रहा है कि काउंटर से टिकट बुकिंग की घोषणा की जाएगी तो इसको लेकर दिशा-निर्देश भी जारी होंगे। ख़ासकर सोशल डिस्टेंसिंग को पालन करना तो ज़रूरी होगा ही। एक दिन पहले ही एक जून से ट्रेनों को चलाने की घोषणा करने के दौरान कहा गया था कि सोशल डिस्टेंसिंग और दूसरे एहतियात को पहले की तरह ही यात्रियों को मानना होगा। ट्रेन खुलने से डेढ़ घंटे पहले यात्रियों को स्टेशन पहुँचना होगा।

तब यह भी कहा गया था कि इन ट्रेनों में आरएसी और वेटलिस्टेड टिकट की बुकिंग की सुविधा भी होगी। लेकिन चार्ट तैयार होने पर जिनका टिकट वेटलिस्ट में रह जाएगा उनका टिकट रद्द होगा और उनको जाने की अनुमति नहीं होगी। आरएसी में आए यात्रियों को एक सीट को दो यात्रियों को शेयर करना होगा। 

देश से और ख़बरें
बता दें कि हाल के दिनों में ट्रेन, बस और हवाई यातायात को धीरे-धीरे खोला जा रहा है। अब तो हवाई जहाज के लिए भी दिशा-निर्देश आ गए हैं। इन सभी सेवाओं को तब बंद कर दिया गया था जब 24 मार्च को 21 दिन के लिए देश भर में लॉकडाउन की घोषणा की गई थी। इसके बाद 14 अप्रैल को दो हफ़्ते के लिए लॉकडाउन को बढ़ा दिया गया। 3 मई को फिर से लॉकडाउन को 17 मई तक के लिए बढ़ा दिया गया। और अब फिर 18 मई से 31 तक के लिए लॉकडाउन को बढ़ा दिया गया है। लेकिन विस्तृत दिशा-निर्देशों में कहा गया है कि रेड ज़ोन और कंटेनमेंट ज़ोन में लॉकडाउन सख़्ती से रहेगा और बाक़ी क्षेत्रों में लॉकडाउन में ढील दी जाएगी। 
Satya Hindi Logo लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा! गोदी मीडिया के इस दौर में पत्रकारिता को राजनीति और कारपोरेट दबावों से मुक्त रखने के लिए 'सत्य हिन्दी' के साथ आइए। नीचे दी गयी कोई भी रक़म जो आप चुनना चाहें, उस पर क्लिक करें। यह पूरी तरह स्वैच्छिक है। आप द्वारा दी गयी राशि आपकी ओर से स्वैच्छिक सेवा शुल्क (Voluntary Service Fee) होगा, जिसकी जीएसटी रसीद हम आपको भेजेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

देश से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें