loader

बीजेपी के स्थापना दिवस पर मोदी बोले - कोरोना के ख़िलाफ़ जारी युद्ध को जीतना है

बीजेपी के 40वें स्थापना दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीजेपी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि हम सभी को कोरोना के ख़िलाफ़ चल रहे युद्ध को जीतना है। मोदी ने कहा कि स्थापना दिवस बीजेपी के कार्यकर्ताओं के लिये कुछ करने का मौक़ा होता है। प्रधानमंत्री ने कहा कि इस बार का स्थापना दिवस ऐसे कालखंड में आया है जब पूरी मानव जाति के सामने एक संकट पैदा हुआ है, दुनिया मुश्किल वक्त से गुजर रही है। 

ताज़ा ख़बरें

बीजेपी कार्यकर्ता आगे आएं 

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘आर्थिक सेवा बेहद ज़रूरी है, कोरोना के ख़िलाफ़ यह युद्ध मानवता के ख़िलाफ़ है, जिस तरह हम लोग युद्ध में दान देते हैं, वैसे ही लाखों लोग पीएम केयर्स फ़ंड में दान दे रहे हैं। लेकिन बीजेपी के हर कार्यकर्ता को इस फ़ंड में दान देना है और बीजेपी के 40 साल होने के उपलक्ष्य में 40 अन्य लोगों को भी ऐसा करने के लिये प्रेरित करना है।’

देश से और ख़बरें

मोदी ने कहा, ‘कोरोना वैश्विक महामारी से निपटने के लिये भारत के अब तक के प्रयासों ने अलग ही उदाहरण प्रस्तुत किया है। भारत दुनिया के उन देशों में है जिन्होंने कोरोना वायरस को गंभीरता से समझा और समय रहते इसके ख़िलाफ़ जंग शुरू की। भारत ने कई फ़ैसले लिये और सभी सरकारों को साथ लेकर चलने का काम किया।’ मोदी ने कहा कि भारत ने इस मामले में तेजी और समग्रता से काम किया है और इसकी प्रशंसा विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी की है। 

मोदी ने बीजेपी कार्यकर्ताओं से कहा कि हमें अपने आस-पास के लोगों की मदद करने के लिये घर से निकलना है लेकिन इस दौरान हम फ़ेस मास्क ज़रूर पहनें और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें।
अंत में प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि बीजेपी का प्रत्येक कार्यकर्ता ख़ुद को और देश के हर नागरिक को सुरक्षित बनायेगा। उन्होंने कहा कि पार्टी को यहां तक पहुंचाने वाले कार्यकर्ताओं, परिवारों को उनकी त्याग और तपस्या को नमन करते हुए वह उनका धन्यवाद अदा करते हैं। 

'सत्य हिन्दी'
की ताक़त बनिए

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता प्रमाणपत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

देश से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें