loader
बहुत महंगे चश्मे के साथ ये फोटो पीएम मोदी ने 2019 में खुद ट्वीट की थी

महंगाई पर नहीं, राहुल और पीएम मोदी के फैशन पर सवाल 

भारत के राजनीतिक दलों का सरोकार अपने-अपने नेता के फैशन का बचाव करना हो गया है। महंगाई को भूलकर बीजेपी और कांग्रेस टी शर्ट और चश्मे, सूट पर बहस कर रहे हैं। मीडिया भी उसी रंग में चल पड़ा है। पहल बीजेपी ने की है।  भारत जोड़ो यात्रा की हर गतिविधि पर बीजेपी और उसके तमाम संगठन की बारीक नजर है। भारत जोड़ो यात्रा के दौरान राहुल गांधी बरबेरी की टीशर्ट में नजर आए तो बीजेपी ने उसे 41 हजार की टी शर्ट बता दिया। सोशल मीडिया पर घमासान मच गया। बीजेपी को लोगों ने इतनी महंगी टी शर्ट होने का चैलेंज दिया। लेकिन इस बहाने पीएम मोदी के महंगे चश्मे और सूट की चर्चा हो गई जिसकी कीमत लाखों में बताई गई थी। इतना ही नहीं पीएम मोदी द्वारा पहनी जाने वाली चीजों के रेट सोशल मीडिया पर वायरल हो गए हैं। इसी बीच तृणमूल कांग्रेस ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को सबसे बड़ा पप्पू घोषित करने वाली टी शर्ट जारी कर दी, जिसे टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रायन पहन कर घूमते हुए भी दिखे। 

बीजेपी भारत जोड़ो यात्रा में जब तिरंगे और इसके मकसद पर चोट नहीं कर पा रही है तो वो इस यात्रा का नेतृत्व कर रहे राहुल गांधी पर तरह-तरह के अटैक कर रही है।  बीजेपी ने शुक्रवार को राहुल गांधी की तस्वीर और टी-शर्ट की तस्वीर की कीमत के साथ "भारत, देखो," ट्वीट किया। कांग्रेस ने पलटवार करते हुए कहा कि अगर बहस अब कपड़ों की कीमत पर है तो पीएम मोदी का ₹10 लाख का सूट और ₹1.5 लाख का चश्मा भी घसीटा जाएगा।

ताजा ख़बरें

यह हकीकत है कि 2015 में प्रधानमंत्री मोदी ने तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति का स्वागत करते हुए जो बंद गला सूट पहना था, उसकी कीमत दस लाख रुपये थी। बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने आजतक चैनल पर उस सूट की कीमत 4000 रुपये बताई थी, लेकिन कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने उसकी कीमत 10 लाख रुपये बताई। बाद में वो सूट नीलाम हुआ और किसी ने उसे 15 लाख रुपये में खरीदा था। जबकि तथ्य यह है कि गुजरात के बड़े हीरा व्यापारी रमेश भीखाभाई ने वायब्रेंट गुजरात के समय तत्कालीन गुजरात सीएम को वो सूट गिफ्ट किया था। यह बात हीरा व्यापारी ने मीडिया को दिए इंटरव्यू में खुद बताई थी।

बहरहाल, बीजेपी को राहुल पर किया गया हमला महंगा पड़ा। सोशल मीडिया पर पीएम मोदी द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली विदेश ब्रॉन्ड की चीजों के नाम दिए जा रहे हैं। जिनमें उनके विशेष विमान इंडिया 1 जो अमेरिका की बोइंग ने तैयार किया है, से लेकर पीएम मोदी की बीएमडब्ल्यू (जर्मनी) कार, इटालियन अरमानी सूट, अमेरिकन केनेथ कोल जूते, अमेरिका में बना आईफोन, उनकी इटैलियन घड़ी रोजर ड्यूब्यिस, पढ़ने वाला चश्मा कूपर विजन और धूप का चश्मा वर्सेएस समेत कई चीजें शामिल हैं।

खुद पीएम मोदी ने 26 दिसंबर 2019 को एक ट्वीट में अपनी चार फोटो ट्वीट की थी। उसमें उन्होंने जो चीजें पहनी थीं, वो बहुत महंगी थीं और उस समय भी यह विवाद उठा था कि हमारे पीएम को महंगी चीजें पहनने का शौक है। कांग्रेस प्रवक्ता रणजीप सूरजेवाला ने उस समय आरोप लगाया था कि सूर्य ग्रहण देखने के लिए मोदी जी ने 1.5 लाख का चश्मा पहना है। मोदी का वो चार फोटो वाला ट्वीट अभी भी मौजूद है। जिसमें उन्होंने जर्मनी की लग्जरी कंपनी मायबाख का चश्मा पहना हुआ है, जिसकी शुरुआती कीमत 2129 डॉलर से शुरू होती है। बीजेपी ने शुक्रवार को राहुल की बरबेरी टी शर्ट की कीमत 41000 रुपये बताई थी, लेकिन सोशल मीडिया पर लोगों ने खोजकर बताया कि उस टीशर्ट की कीमत पांच हजार रुपये से अधिक नहीं है।

कांग्रेस नेता और प्रवक्ता पवन खेड़ा ने इस मुद्दे पर तीखा हमला किया है। उन्होंने लिखा -निक्करवाले केवल टी-शर्ट देखते है। सिर्फ एक टी-शर्ट ने कोट, शॉल, घड़ी, कलम, चश्मा, कार, जहाज और बंगले की यादें ताजा कर दी हैं। यानी पवन खेड़ा यह कहना चाहते हैं कि राहुल की टीशर्ट की वजह से लोग उनके (पीएम मोदी) के महंगे कोट, शॉल, घड़ी, कलम, चश्मे, कार, जहाज की बातें कर रहे हैं।

पप्पू का जवाब सबसे बड़ा पप्पू है

बीजेपी ने लंबे समय बल्कि अब तक राहुल गांधी के लिए पप्पू शब्द का इस्तेमाल सोशल मीडिया पर जमकर किया। राहुल गांधी की मामूली से मामूली गलती को पप्पू की गलती बताकर पेश किया गया।  पश्चिम बंगाल की तृणमूल कांग्रेस ने अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं के लिए अपने कट्टर दुश्मन बीजेपी नेता और गृह मंत्री अमित शाह पर हमला करने और हमला करने के लिए एक टी-शर्ट तैयार की है। अमित शाह के चेहरे के कार्टून वाली टी-शर्ट और कैप्शन के साथ "भारत का सबसे बड़ा पप्पू" सफेद, काले और पीले रंग में लिखा गया है।
Rahul T-shirt and PM Modi expensive glasses maing news - Satya Hindi
कभी बीजेपी ने कांग्रेस सांसद राहुल गांधी को बदनाम करने के लिए "पप्पू" नाम दिया था,, जिसे ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस अब अमित शाह का मजाक उड़ाने के लिए इस्तेमाल कर रही है।
तृणमूल कांग्रेस अक्टूबर के पहले सप्ताह में दुर्गा पूजा के दौरान इस टी-शर्ट को एक अभियान चलाकर बांटेगी। वो इस बार रामलीला और दशहरा का अधिकतम लाभ उठाने के लिए उत्सुक है, जब बड़ी संख्या में लोग पश्चिम बंगाल के पंडालों में जाते हैं। उसी दौरान सबसे बड़ा पप्पू वाली टी शर्ट बांटी जाएगी।
तृणमूल कांग्रेस के सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने एक वीडियो में कहा- "मजाक संवाद करने का सबसे शक्तिशाली तरीका है। यह हमारे राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी की टिप्पणी से शुरू हुआ और यह सोशल मीडिया पर एक चलन बन गया। फिर यह टी-शर्ट पर आया।
कोयला तस्करी मामले में ईडी द्वारा सात घंटे से अधिक समय तक पूछताछ के बाद 2 सितंबर को पत्रकारों से बात करते हुए, अभिषेक बनर्जी ने अमित शाह को "भारत का सबसे बड़ा पप्पू" बताया था। उसी दिन, बनर्जी के चचेरे भाई आकाश बनर्जी और अदिति गेयन ने सोशल मीडिया पर अमित शाह के कार्टून और "पप्पू" नारे के साथ टी-शर्ट पहने तस्वीरें पोस्ट कीं।
तृणमूल कांग्रेस के सूत्रों ने कहा कि बनर्जी युवा पार्टी कार्यकर्ताओं को कपड़ों के नए डिजाइनों पर सलाह देते रहे हैं, जो 300 रुपये में बेचे जाते हैं। इसमें ज्यादातर टीएमसी की प्रचार सामग्री शामिल है। टीएमसी सांसद ओ ब्रायन ने कहा कि शुरुआत में, टीएमसी पार्टी की  टी-शर्ट ऑनलाइन उपलब्ध थी। अब, कोई भी उन्हें थोक बाजारों में प्राप्त कर सकता है।
संसद भवन के पास सफेद रंग की टी-शर्ट पहने हुए एक वीडियो और फोटो ट्वीट करने वाले सांसद ने कहा कि दुर्गा पूजा से पहले तीन से चार डिजाइन उपलब्ध हैं और अधिक बाजार में आ जा रहे हैं। ओ ब्रायन ने कहा कि कॉलेज के छात्र और पार्टी के उत्साही युवा जो 25 वर्ष से अधिक उम्र के नहीं हैं, वे टी-शर्ट बना रहे हैं। वे नाम नहीं लेना चाहते हैं। लेकिन डिजाइन, मैं कहूंगा, दिमागी को झकझोर रहा है।  
ओ ब्रायन ने खुद कोलकाता से दिल्ली की फ्लाइट में भी टी-शर्ट पहनी थी। तृणमूल कांग्रेस के कई समर्थकों ने अमित शाह का मजाक उड़ाते हुए टी-शर्ट पहने तस्वीरें ट्वीट की हैं। ओ ब्रायन ने चुटकी लेते हुए कहा कि कांग्रेस को इस अभियान को पसंद करना चाहिए। बीजेपी ने इस शब्द का इस्तेमाल उनके नेता का मजाक उड़ाने के लिए किया था। अब बीजेपी को उसकी दवा वापस की जा रही है। 
देश से और खबरें
बीजेपी नेता राहुल सिन्हा ने इस पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि यह "व्यक्तिगत हमला" एक फ्लॉप शो होगा। सिन्हा ने कहा, "टीएमसी के पास बीजेपी से लड़ने के लिए कोई मुद्दा नहीं है। इसलिए वे व्यक्तिगत रूप से लोगों को निशाना बना रहे हैं। यह दर्शाता है कि पार्टी अंत की ओर बढ़ रही है।
लेकिन इसी बीजेपी नेता राहुल सिन्हा के पास इस बात का कोई जवाब नहीं है कि फिर बीजेपी ने राहुल गांधी के लिए पप्पू शब्द क्यों मशहूर किया। अब जब उनके नेता बल्कि देश में प्रधानमंत्री मोदी के बाद सबसे पावरफुल शख्सियत अमित शाह को निशाना बनाया बनाया जा रहा है तो बीजेपी के लोगों को उतना ही बुरा लग रहा है।
सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

देश से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें