loader

‘कांग्रेस सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी; सोनिया से मिलेंगे नीतीश-लालू’ 

बिहार के उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा है कि कांग्रेस अभी भी विपक्ष में सबसे बड़ी पार्टी है और दूसरे विपक्षी राजनीतिक दलों को इस बारे में व्यावहारिक होकर सोचना चाहिए। 

तेजस्वी यादव ने द इंडियन एक्सप्रेस के साथ बातचीत में कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और आरजेडी के मुखिया लालू प्रसाद यादव कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के विदेश से लौटने के बाद उनसे मिलने जाएंगे। कुछ दिन पहले तेजस्वी यादव भी दिल्ली आए थे और उन्होंने सोनिया गांधी से मुलाकात की थी। 

इसके अलावा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी दिल्ली आकर राहुल गांधी, अरविंद केजरीवाल समेत तमाम नेताओं से मुलाकात कर चुके हैं। 

ताज़ा ख़बरें

तेजस्वी यादव ने द इंडियन एक्सप्रेस के साथ बातचीत में कहा, “विपक्षी नेताओं का एक ही लक्ष्य होना चाहिए और वह है बीजेपी को हराना। बिहार से एक बेहतर शुरुआत हो चुकी है और इसे दोहराए जाने की जरूरत है। नीतीश जी कई नेताओं से मिले हैं। उन्होंने लालू यादव से बात की है, लालू जी भी इस बारे में बोल चुके हैं और मैं भी लगातार मिलता रहता हूं।”

तेजस्वी ने कहा कि आखिरकार अगले लोकसभा चुनाव पर बातचीत शुरू हो गई है जबकि बिहार में हुए घटनाक्रम से पहले ऐसा नहीं था। 

Tejashwi Yadav said Congress still largest Opposition party - Satya Hindi

बताना होगा कि नीतीश कुमार के एनडीए का पाला छोड़ने और विपक्ष के पाले में आने के बाद से ही 2024 के लोकसभा चुनाव को लेकर विपक्षी दलों ने तैयारियां तेज कर दी हैं। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी कहा है कि वह हेमंत सोरेन, नीतीश कुमार और अन्य विपक्षी नेताओं के साथ एक मंच पर आकर 2024 का लोकसभा चुनाव लड़ेंगी। 

जबकि तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव उर्फ केसीआर ने एलान किया है कि वह एक राष्ट्रीय राजनीतिक दल का गठन करेंगे। उनकी मंशा विपक्षी नेताओं को जोड़ने की है। केसीआर पटना आकर नीतीश व तेजस्वी से मिले थे। 

Tejashwi Yadav said Congress still largest Opposition party - Satya Hindi
तेजस्वी ने द इंडियन एक्सप्रेस से कहा कि जेडीयू के एनडीए से हटने के बाद बीजेपी की ताकत कम हो चुकी है और बिहार में आरजेडी, जेडीयू, वामदलों और कांग्रेस का वोट भी 50 फीसद से ज्यादा हो चुका है। उन्होंने कहा कि बीजेपी 2019 के लोकसभा चुनाव के प्रदर्शन को अब बिहार में नहीं दोहरा पाएगी। 2019 के लोकसभा चुनाव में एनडीए गठबंधन को बिहार की 40 में से 39 सीटों पर जीत मिली थी। 
लालू यादव की राजनीतिक विरासत के उत्तराधिकारी माने जाने वाले तेजस्वी ने कहा कि अगर विपक्षी दल हाथ मिला लें और एक रणनीति के तहत लड़ाई लड़ें तो बीजेपी निश्चित रूप से लोकसभा में बहुमत के आंकड़े से पीछे रह जाएगी।

तेजस्वी ने कहा कि कांग्रेस को चुनावी गणित से बाहर नहीं रखा जा सकता। कांग्रेस के पास दूसरे दलों से ज्यादा सांसद हैं। दूसरे विपक्षी राजनीतिक दल अपने ही राज्यों तक सीमित हैं इसलिए सभी को प्रैक्टिकली इस बात को सोचना होगा और हालात को समझना होगा। 

तेजस्वी ने कहा कि बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने क्षेत्रीय दलों के खत्म हो जाने की बात कही थी और वह जेडीयू को तोड़ना चाहते थे। तेजस्वी ने कहा कि बिहार में हुए घटनाक्रम का संदेश देश भर में गया है और इससे विपक्ष में आशा की उम्मीद जगी है। 

राजनीति से और खबरें

तेजस्वी यादव का यह कहना कि लालू और नीतीश कुमार सोनिया गांधी से मिलने दिल्ली आएंगे, यह निश्चित रूप से 2024 के लोकसभा चुनाव से पहले विपक्षी एकजुटता की दिशा में मजबूती से आगे बढ़ने की एक कोशिश है। 

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

राजनीति से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें