loader

यूपी चुनाव: चौथे चरण में 59 सीटों पर हुई 59.23% वोटिंग

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए चौथे चरण का मतदान बुधवार को संपन्न हो गया। इस चरण में 9 ज़िलों की कुल 59 सीटों पर वोट डाले गए। जिन जिलों में वोटिंग हुई उनमें- पीलीभीत, खीरी, सीतापुर, हरदोई, उन्नाव, लखनऊ, रायबरेली, बांदा और फतेहपुर शामिल हैं। सभी विधानसभा क्षेत्रों में कुल मिलाकर 59.23 फ़ीसदी वोटिंग हुई। इससे पहले शाम 5 बजे तक 57.45% लोग वोट डाल चुके थे।

कुछ जगहों पर ईवीएम में शिकायतें आई थीं। लखीमपुर खीरी में ईवीएम में फेवीक्विक डालने की घटना आई थी जिस पर चुनाव आयोग ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। बता दें कि राज्य में पहले चरण में 61.63%, दूसरे चरण में 64.42% और तीसरे चरण में 61% वोटिंग हुई है।

2017 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी को इन 59 सीटों में से 51 सीटों पर जीत मिली थी जबकि सपा के खाते में 4 और बीएसपी के खाते में 3 सीटें गई थी। एक सीट पर बीजेपी की सहयोगी अपना दल (एस) को जीत मिली थी। बीएसपी प्रमुख मायावती ने लखनऊ के नगर निगम के नर्सरी स्कूल में बने पोलिंग बूथ में वोट डाला। 

ये हैं बड़े चेहरे 

इस चरण के प्रमुख उम्मीदवारों की बात करें तो लखीमपुर सीट पर बीजेपी के योगेश वर्मा की टक्कर समाजवादी पार्टी के उत्कर्ष वर्मा से है। लखीमपुर खीरी के इलाके में बीते साल किसानों को गाड़ी से कुचल दिया गया था, उसके बाद इस मुद्दे की गूंज पूरे देश भर में हुई थी। दूसरी सीट रायबरेली है जहां से बीजेपी के टिकट पर अदिति सिंह चुनाव मैदान में हैं और उनका मुकाबला कांग्रेस के मनीष चौहान से है।

up election 2022 fourth phase voting and key candidates - Satya Hindi

रायबरेली से ही कांग्रेस की अध्यक्ष सोनिया गांधी सांसद हैं। अदिति सिंह ने पिछला चुनाव कांग्रेस के टिकट पर जीता था लेकिन बाद में वह बीजेपी में शामिल हो गई थीं।

लखनऊ की सरोजिनी नगर सीट भी हॉट सीट में शामिल है। यहां से बीजेपी ने ईडी के पूर्व अफसर राजेश्वर सिंह को उतारा है जबकि सपा ने पूर्व मंत्री अभिषेक मिश्रा को टिकट दिया है। राजेश्वर सिंह अपने कार्यकाल के दौरान बेहद चर्चित रहे हैं।

लखनऊ कैंट व ईस्ट सीट

लखनऊ कैंट सीट पर जोरदार चुनावी मुकाबला है। यहां से बीजेपी ने कानून मंत्री बृजेश पाठक को टिकट दिया है तो सपा ने दो बार के पार्षद सुरेंद्र सिंह गांधी को मैदान में उतारा है। पाठक ने 2017 का चुनाव लखनऊ सेंट्रल सीट से जीता था

इसी तरह लखनऊ ईस्ट सीट भी चर्चा में है। यहां से बीजेपी ने कैबिनेट मंत्री आशुतोष टंडन को उम्मीदवार बनाया है तो सपा अपने प्रवक्ता अनुराग भदौरिया को चुनाव लड़ा रही है। 

उत्तर प्रदेश से और खबरें

उत्तर प्रदेश विधानसभा के उपाध्यक्ष नितिन अग्रवाल भी चुनाव मैदान में हैं और वह हरदोई से बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं। 

उत्तर प्रदेश में अब तक हुए तीन चरणों के चुनाव में बीजेपी और सपा गठबंधन के बीच बेहद जोरदार टक्कर देखने को मिली है। ऐसा ही हाल इस चरण में भी है लेकिन इस चरण में बीजेपी को किसानों की नाराजगी का खामियाजा उठाना पड़ सकता है। क्योंकि लखीमपुर खीरी और इसके आसपास के जिलों में इस चरण में ही वोटिंग हो रही है।

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

उत्तर प्रदेश से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें