loader

कुंभ पहुँचने वाले मोदी पहले पीएम नहीं, बीजेपी आईटी सेल का दावा ग़लत

प्रधानमंत्री मोदी रविवर को कुंभ क्या पहुँचे बीजेपी आईटी सेल उनके बेतहाशा प्रचार-प्रसार में जुट गया। बीजेपी आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ही ग़लत तथ्यों के साथ मोदी की तसवीरों को ट्वीट किया। इस तसवीरों के साथ अमित मालवीय ने लिखा, 'मोदी अब तक कुंभ में पहुँचने वाले पहले राष्ट्र प्रमुख हैं।' तो वास्तविकाता क्या है?
अमित मालवीय के इस दावे को ‘ऑल्ट न्यूज़’ वेबसाइट और वरिष्ठ पत्रकार तवलीन सिंह ने ग़लत क़रार दिया है। वेबसाइट ने दो आधार पर इसे ग़लत बताया है। 
  1. प्रधानमंत्री राष्ट्र प्रमुख नहीं हैं। वह कैबिनेट मंत्रियों के नेता और सरकार की कार्यपालिका के प्रमुख हैं। भारत के राष्ट्रपति राष्ट्र प्रमुख हैं। 
  2.  कुंभ पहुँचने वाले प्रधानमंत्री मोदी देश के पहले प्रधानमंत्री नहीं हैं। पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू 1954 में कुंभ पहुँचे थे। 
‘ऑल्ट न्यूज़’ के अनुसार लेखक कामा मेक्लेन ने अपनी किताब 'पिलग्रिमेज एंड पावर : द कुंभ मेला इन इलाहाबाद, 1765-1954' में 1954 में कुंभ पहुँचे नेहरू की एक तसवीर को शामिल किया है। किताबे लिखा है, 'हालाँकि यह तकनीकी रूप से उत्तर प्रदेश सरकार के अंतर्गत आता है, फिर भी कुंभ मेले की तैयारी में प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू व्यक्तिगत रूप से जुड़े हुए थे और वह कुंभ में आये भी थे। वह मेले के दौरान ही जब पौष पूर्णिमा पर दूसरी बार आये तो मीडिया कर्मियों की उपस्थिति में उन्होंने पवित्र गंगा के पानी में हाथ लगाया।' 
लेखक और वरिष्ठ पत्रकार तवलीन सिंह ने ही अमित मालवीय के दावे को ग़लत बताते हुए ट्वीट कर रिप्लाई किया है, 'इंदिरा गाँधी कुंभ में 1977 में गयी थीं। यही वह जगह है जहाँ उन्होंने कहा था कि चुनाव जल्द होंगे।' अपने इस दावे पर आपत्ति करने वालों को तवलीन सिंह ने दूसरे ट्वीट में लिखा, 'मैं जानती हूँ उन्होंने गंगा में डुबकी भी लगायी थी। मैं वहीं थी। इंदिरा गाँधी बहुत धार्मिक थीं।'
अमित मालवीय का दावा इन दोनों आधार पर सही ग़लत साबित होता है। यह साफ़ है कि प्रधानमंत्री मोदी न तो राष्ट्र प्रमुख हैं और न ही वह कुंभ का दौरा करने वाले पहले प्रधानमंत्री हैं। 
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

असत्य से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें