loader

स्पाइस जेट खुद को सेफ एयरलाइन साबित करने में नाकामः डीजीसीए

नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (DGCA) ने बुधवार को स्पाइसजेट को कारण बताओ नोटिस जारी किया। यह एयरलाइन पिछले 18 दिनों में आठ खराबी की घटनाओं की शिकार हुई है।

डीजीसीए ने कहा कि स्पाइसजेट विमान नियम, 1937 के तहत सुरक्षित, कुशल और विश्वसनीय हवाई सेवाएं दे पाने में विफल रहा है।

ताजा ख़बरें

स्पाइसजेट ने कहा कि उसका मालवाहक विमान, जो चीन में चोंगकिंग जा रहा था, मंगलवार को कोलकाता लौट आया क्योंकि पायलटों को उड़ान भरने के बाद एहसास हुआ कि उसका मौसम रडार काम नहीं कर रहा है। 

पिछले 18 दिनों में स्पाइसजेट के विमान में तकनीकी खराबी की यह कम से कम आठवीं घटना है। 2 जुलाई को, जबलपुर जाने वाली स्पाइसजेट की एक फ्लाइट क्रू मेंबर्स के केबिन में लगभग 5,000 फीट की ऊंचाई पर धुआं देखने के बाद दिल्ली लौट आई।

24 और 25 जून को उड़ान भरते समय दो अलग-अलग स्पाइसजेट विमानों पर दरवाजे में खराबी की चेतावनी दी गई, जिससे उन्हें अपनी यात्रा बीच में छोड़कर वापस लौटने के लिए मजबूर होना पड़ा। 19 जून को, पटना हवाई अड्डे से उड़ान भरने के तुरंत बाद 185 यात्रियों को लेकर वाहक के दिल्ली जाने वाले विमान के एक इंजन में आग लग गई और विमान ने कुछ मिनट बाद आपातकालीन लैंडिंग की। पक्षी के टकराने से इंजन में खराबी आ गई।

देश से और खबरें

19 जून को एक अन्य घटना में, जबलपुर के लिए एक स्पाइसजेट की उड़ान को केबिन में धुआं उठने पर दिल्ली लौटना पड़ा। 

स्पाइसजेट के शेयर 52 हफ्ते के निचले स्तर पर चल रहे हैं।  स्पाइसजेट के शेयरों में बुधवार को गिरावट जारी रही। उसके शेयर अपने एक साल के निचले स्तर पर 7% की गिरावट के साथ चल रहे हैं। एयरलाइन पिछले तीन साल से घाटे में चल रही है। उसको 2018-19, 2019-20 और 2020-21 में क्रमशः 316 करोड़ रुपये, 934 करोड़ रुपये और 998 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ है।

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

देश से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें