loader
के. सतीश कुमार रेड्डी, बीजेपी नेता

मेडिकल सीट के नाम पर ठगी, बीजेपी नेता अरेस्ट

हैदराबाद में एक ऐसे बीजेपी नेता को तेलंगाना पुलिस ने गिरफ्तार किया है जो मेडिकल सीट दिलाने के नाम पर ठगी करता था। हालांकि पुलिस के पास अभी तक एक ही ठोस शिकायत आई है, जिस पर उसने कार्रवाई की है। लेकिन वो जांच कर रही है कि मेडिकल सीट दिलाने के नाम पर बीजेपी नेता ने कितने लोगों को ठगा है।
पुलिस के प्रेसनोट में कहा गया है कि 32 साल के बीजेपी नेता के. सतीश कुमार रेड्डी ने एक शख्स की बेटी को मेडिकल सीट का वादा करके धोखा देने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।
ताजा ख़बरें
पुलिस ने बताया कि आरोपी बीजेपी नेता सतीश ने ममता एकेडमी ऑफ मेडिकल साइंसेज, बाचुपल्ली में शिकायतकर्ता व्यक्ति की बेटी को एमबीबीएस सीट दिलाने का वादा करके 48,53,000 रुपये लिए और फर्जी सीट आवंटन आदेश बनाए। जब वो उस आदेश को लेकर अपनी बेटी के साथ उस मेडिकल कॉलेज में पहुंचा तो वहां उसे बताया गया कि यह फर्जी सीट आवंटन आदेश है। मेडिकल कॉलेज ने ऐसा कोई आदेश जारी नहीं किया है।
पीड़ित व्यक्ति ने बीजेपी नेता से उसके पैसे वापस करने के लिए दबाव डाला। आरोपी ने उसे दो चेक जारी किए। बैंक में जमा कराने पर बैंक ने आरोपी के खाते में पैसे न होने की वजह से चेक को बाउंस कर दिया। पुलिस ने सतीश कुमार को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

बीजेपी नेता के. सतीश कुमार रेड्डी मूलरूप से प्रॉपर्टी डीलर है। उसने जंगाव विधानसभा सीट से बीएसपी के टिकट पर 2018 का विधानसभा चुनाव लड़ा था लेकिन हार गया था। उसके बाद वो बीजेपी में शामिल हो गया।
पुलिस का कहना है कि उसके पास इस नेता के बारे में कई शिकायतें पहुंची थीं। लेकिन ठोस शिकायत सिर्फ एक ही आई है। पुलिस ने इस बात से इनकार नहीं किया है कि तेलंगाना के मेडिकल कॉलेजों में मेडिकल सीट दिलाने के नाम पर दलाल किस्म के लोग बड़े पैमाने पर ठगी रैकेट चला रहे हैं। तमाम दलालों ने राजनीतिक दलों की शरण ले रखी है।

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

देश से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें