loader

यूपी: ब्लॉक प्रमुख चुनाव में मतदान के दौरान कई जगह हिंसा, झड़प 

उत्तर प्रदेश में ब्लॉक प्रमुख चुनाव में मतदान के दौरान कई जगहों से हिंसा और झड़प होने की ख़बरें सामने आई हैं। अमरोहा में बीजेपी और एसपी के कार्यकर्ता भिड़े हैं तो मुजफ़्फ़रनगर में भी बीजेपी और विपक्षी दलों के कार्यकर्ता आमने-सामने आ गए। हमीरपुर में दो गुटों में झड़प हुई है। 

ब्लॉक प्रमुख चुनाव के नामांकन में दबंगई, मारपीट और एक महिला के साथ हुई बदसलूकी के कारण योगी सरकार पहले से ही विपक्षी दलों के निशाने पर है। इस बीच, 353 उम्मीदवारों का निर्विरोध निर्वाचन हो चुका है। अब 476 सीटों पर मतदान होगा और इसके लिए 1,710 उम्मीदवार मैदान में हैं। मतदान सुबह 11 से 3 बजे तक चलेगा और इसके बाद मतगणना होगी। 

राज्य भर में प्रदर्शन करेगी एसपी

एसपी ने कहा है कि ब्लॉक प्रमुख और जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनावों में बीजेपी सरकार ने जमकर धांधली की है और वह इसके ख़िलाफ़ 15 जुलाई को राज्य भर में प्रदर्शन करेगी। इस दौरान प्रदेश के सभी तहसील मुख्यालयों पर पार्टी के कार्यकर्ता प्रदर्शन करेंगे और राज्यपाल के नाम ज्ञापन देंगे। 

ताज़ा ख़बरें

पार्टी ने कहा है कि वह बढ़ती महंगाई, बिगड़ती कानून व्यवस्था, नौजवानों की बेरोजगारी, किसानों के ऊपर थोपे जा रहे कृषि कानून, स्वास्थ्य सेवाओं की बदहाली और कार्यकर्ताओं पर फर्जी मुक़दमे लगाने के मुद्दे को भी इस दौरान उठाएगी। 

पुलिस अफ़सरों पर कार्रवाई 

लखीमपुर खीरी जिले की पसगंवा ब्लॉक से एसपी की ब्लॉक प्रमुख की उम्मीदवार रितु सिंह की प्रस्तावक महिला से बदसलूकी का मामला जब सोशल मीडिया पर चर्चित हुआ और इसे लेकर सरकार बुरी तरह घिर गई तो उसे स्थानीय पुलिस अफ़सरों के ख़िलाफ़ कार्रवाई करनी पड़ी। महिला ने शुक्रवार को लखनऊ पहुंचकर पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से मुलाक़ात की थी। 

इस मामले में सख़्त कार्रवाई करते हुए शासन के आदेश पर सीओ मोहम्मदी अभय मल्ल, इंस्पेक्टर पसगंवा आदर्श कुमार सिंह, इंस्पेक्टर हनुमान प्रसाद, चौकी इंचार्ज बरवर महेश गंगवार, चौकी इंचार्ज जेबीगंज दुर्वेश गंगवार और उचौलिया चौकी इंचार्ज उग्रसेन सेन को निलंबित कर दिया गया है। 

उत्तर प्रदेश से और ख़बरें

रितु सिंह ने शुक्रवार को बताया कि जब यह महिला प्रस्तावक होने से जुड़े कागजात दाख़िल करने जा रही थीं, उस दौरान बीजेपी के नेताओं ने उनसे बदसलूकी की। बदसलूकी के वायरल हुए वीडियो  में दिख रहा है कि दो लोग इस महिला की साड़ी खींच लेते हैं और उनसे पूछते हैं कि कहां जा रही हो। इस मामले में पुलिस ने यश वर्मा व एक अन्य को गिरफ़्तार कर लिया है। रितु सिंह ने आरोप लगाया है कि ये लोग बीजेपी के स्थानीय विधायक लोकेंद्र प्रताप सिंह के समर्थक हैं।

अखिलेश यादव ने कहा है कि जिस जिले का डीएम, एसपी ख़ुद चुनाव को हराने के लिए बैठा हो, तो आप क्या करेंगे। उन्होंने कहा कि एसपी ऐसे अफ़सरों की पूरी सूची बना रही है जिन्होंने एसपी कार्यकर्ताओं और जनता को अपमानित किया है।

जमकर बवाल 

उत्तर प्रदेश में जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनावों में सत्ता की भरपूर दबंगई के बाद ब्लॉक प्रमुख पद के चुनावों में हिंसा, गुंडागर्दी, छिनैती से लेकर मारपीट के नजारे दिखाई दिए। प्रदेश के ज्यादातर जिलों में ब्लॉक प्रमुख के पदों के लिए गुरुवार को हुए नामांकन में जमकर बवाल हुआ था और गोलियां तक चलीं थीं।  

दबंगई का आलम यह रहा कि विपक्षी दलों के कद्दावर नेताओं, पूर्व मंत्रियों तक को नामांकन दाखिल करने से रोका गया। कन्नौज जिले में नामांकन के दौरान चल रहे बवाल को कवर करने वाले एक राष्ट्रीय न्यूज चैनल के संवाददाता को बीजेपी समर्थकों ने जमकर पीटा दिया। 

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

अपनी राय बतायें

उत्तर प्रदेश से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें